जनता ने दी दिल्ली और यूपी के मुख्यमंत्रियों के कर्मों पर अपनी प्रतिक्रिया!

योगी बनाम केजरीवाल पर क्या है जनता का जवाब?

10954

देश में इस वक्त हर तरफ मोदी-मोदी या योगी-योगी की बहार है| उत्तर प्रदेश के 2017 के चुनाव में भाजपा ने पूर्ण बहुमत से जीत हासिल कर जहाँ अपने अनुयायियों को खुश कर दिया वहीं दूसरी तरफ योगी आदित्यनाथ को उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाकर सबको हक्का-बक्का कर दिया| 19 मार्च 2017 को शपथ लेते ही योगी आदित्यनाथ एक्शन में आगए| मुख्यमंत्री बनने के कुछ घंटों के अंदर ही सीएम योगी ने कई बड़े फैसले ले लिए| सीएम के आदेश के अनुसार ये बड़े फैसले सामने आये:

यूपी में सभी अवैध बूचड़खानों पर प्रतिबन्ध लग गया|

किसानों के 1 लाख तक के क़र्ज़ माफ़ कर दिए गये|

परीक्षा में नक़ल करने वालों पर कड़ी कारवाई करने को कहा| 

source

योगी के इन फैसलों से ज्यादातर जनता खुश लग रही है और ऐसा प्रतीत हो रहा है कि मोदी लहर के बाद अब योगी-राज का प्रारंभ हो गया है|

यूपी मुख्यमंत्री के साथ-साथ दिल्ली मुख्यमंत्री भी इस वक्त काफ़ी चर्चा में हैं| दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल अपनी पार्टी के घोटालों की वजह से खबरों में हैं| हाल ही में शुंगलू समिति ने 404 फाइलों की जांच के बाद ये खुलासा किया था कि केजरीवाल सरकार ने अपनी ताकत का दुरुपयोग किया है| और इस बात की गवाह जनता भी है कि चुनावी रैलियों में केजरीवाल ने जो वादे किए थे उनमें से कोई वादा नहीं निभा पाए| आये दिन अरविन्द केजरीवाल अपने उलटे सीधे बयानों के कारण विवाद से घिरे रहते हैं| ऐसा लगता है कि केजरीवाल के पास मोदी सरकार पर दोषारोपण करने के अलावा कोई काम बचा ही नहीं है|

पेज 2 पर देखिये जनता ने कैसे की योगी और केजरीवाल के कर्मों की तुलना…

1 of 2

Loading...
Loading...